सीसी रोड खोल रहा ठेकेदार के भ्रष्टाचार की पोल… बनने के बाद ही उखड़ने लगा रोड़… सीमेंट से लीपापोती कर ठेकेदार दबा रहा मामला….

पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट:-पेटलावद. नगर में चल रहे निर्माण कार्यो में जमकर भृष्टाचार की गंगा बहाई जा रही है। कमीशन के में लाखो-करोड़ो के निर्माण कार्यो में नगर परिषद के कर्ताधर्ता मोन साधे बैठे है। नगर के वार्ड नम्बर 6 में हाल में बनाये गए सीसी रोड़ में दरारें पड़ने लगी है। अब ठेकेदार अपना भृष्टाचार दबाने के लिए सीसी रोड़ पर सीमेंट से लीपापोती कर रहा है। दरारे पड़ने के साथ ही रोड़ से गिट्टी बाहर निकलने गई है। यहां नगर परिषद ओर ठेकेदार की मिलीभगत से सीसी रोड में जमकर भृष्टाचार किया गया। जिसके चलते रोड़ अभी से घटिया निर्माण की पोल खोल रहा है। वार्ड नम्बर 6 में लगभग 25 लाख रुपये की लागत उक्त सीसी रोड का निर्माण हाल ही में किया गया है। रोड़ की गुणवत्ता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि चंद दिनों में ही रोड में दरारें पड़ने लगी है। ठेकेदार मामले को दबाने के लिये रोड़ पर सीमेंट पोत रहा है। अगर सीसी रोड का निर्माण ईमानदारी से किया जाता तो आज यह स्थिति निर्मित नही होती।

इंजीनियर नही देते ध्यान

सरकार सड़को के नाम पर लाखों करोड़ों रुपये पानी की तरह बहाती है लेकिन कमीशन ओर भृष्टाचार के चलते सरकार को लाखों रुपये का चूना लगाया जा रहा है। सरकारी निर्माण की देखरेख ओर गुणवत्ता जांचने के लिए इंजीनियरो की जवाबदेही तय की गई है लेकिन पेटलावद नगर परिषद में पदस्थ इंजीनियर ने नगर में चल रहे सभी काम ठेकेदार के सुपर्द कर दिए है। इंजीनियर की अनुपस्थिति में ठेकेदार अपनी मनमर्जी अनुसार कार्य करते है , जिसके चलते इस प्रकार के भृष्टाचार खुलकर सामने आते है। खास बात यह है कि निर्माण कार्यो में अनिमितता होने के बाद भी नगर परिषद के जिम्मेदार ठेकेदार के खिलाफ कोई कार्यवाही नही करती है।

वार्ड 8 में भी हो रहा गोलमाल…

साथ ही वार्ड नंबर 8 में करोड़ों रुपए की लागत से नाले का निर्माण किया जा रहा है उक्त नाले में भी अनियमितता की शिकायत आई थी लेकिन नगर परिषद द्वारा मामले में कोई संज्ञान नहीं लिया गया ठेकेदार अपने मनमाने तरीके से निर्माण कार्य कर रहा है जिसके फलस्वरूप निर्माण कार्य पूरे होने के पहले ही भ्रष्टाचार की पोल खोल रहे हैं।

इन्होंने कहा…..

वार्ड पार्षद पति शंकरलाल राठौड़ ने कहा कि अगर सीसी रोड में अनियमितता पाई जाती है तो ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही की प्रक्रिया की जायेगी।

नगर परिषद के इंजीनियर दीपक वास्केल ने कहा कि रोड़ पर ट्रैफिक ज्यादा होने से रोड़ उखड़ा है, अभी ठेकेदार का बिल पास नही हुआ है।

Add a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!